Manikpuri Matrimonial

WEL COME

News

"Just think it"

Posted by lucky on October 12, 2011 at 7:35 AM

बहुत से लोग ऐसे है, जो आरकुट व फेसबुक मे केवल टाईम पास किया करते है, दोस्तों से हंसी मजाक करना अच्छी बात है, यदि आप थोडा सा समय अपने पंथ के लिए अपने सभी मानिकपुरी मेबर्स के लिए निकले तो क्या बुरा है.................,

आप सभी बहुत समझदार व शिक्षित हैं कभी अपने स्वार्थ के लिए नहीं हमारे समाज के लिए सोचो कितना पीछे है हमारा मानिकपुरी समाज ..................................................,,,,,,,,

ये सब सोचने के लिए किसी के पास इतना टाइम ही नहीं है, जब समय हाथ से निकल जाता तब ही इन्सान सोचा करता है, इंसान की यही फितरत है, ..............

"किसी गांव में एक यक्ति था काफी धन दोलत थी उसके पास समाज में एक अच्छी इज्जत थी उसकी तीन बेटियां थी तीनो को खूब पढाया लिखाया , जब विवाह योग्य हो गयी तो उनके काबिल कोई भी व्यक्ति समाज में नहीं मिल रहा था, पिता बहुत परेशान सा रहने लगा. पर एक दिन एक इनसे परिवार से रिश्ता आया, उसके यहाँ की उसने अपनी लड़की की शादी तय कर दी. लड़का किसी बहुत बड़ी कम्पनी का मालिक था. पिता ने सोचा दुबारा इंसा परिवार नहीं मिलेगा और विवाह कर दिया. धीरे धीरे ८-९ महीने में ही पिता बहुत पछताया..............क्योंकि लड़का किसी कम्पनी का मालिक नहीं था. लड़के के परिवार वाले चेहरे से बहुत ही भोले व मीठी मीठी बातें करते थे पर झूठे और मक्कार थे."

Categories: None

Post a Comment

Oops!

Oops, you forgot something.

Oops!

The words you entered did not match the given text. Please try again.

Already a member? Sign In

0 Comments